Hindi Grammar


रस, एवं रस के प्रकार 9

रस —   रस का शाब्दिक अर्थ होता है – आनंद परिभाषा – काव्य को पढ़ने या सुनने से जिस आनंद की अनुभूति होती है, उसे रस कहते है, पाठक या श्रोता के ह्रदय में स्थित स्थायी भाव ही विभावादी से संयुक्त होकर रस रूप में परिणित हो जाता है,   […]


छत्तीसगढ़ में मराठा शासन भाग 1

छत्तीसगढ़ में मराठा शासन – ( 1741 – 1818 ई.) तक –   भोंसला आक्रमण के समय  हैहय शासन की दशा – आरंभिक हैहय शासक योग्य थे,  किन्तु 19 वीं शताब्दी के प्रमार्ध में उनका गौरव विलुप्त हो चूका था,   इस समय रतनपुर व रायपुर शाखा के तत्कालीन शासको […]