Daily Archives: September 6, 2017


कविताएँ एवं शायरियां 1

खफा भी  होता है, वफ़ा भी करता है, इस तरह वो अपने प्यार को बयां भी करता है, जाने कैसी नाराजगी है, हमसे हमें खोना भी चाहता है, और पाने की दुआ भी करता है,   तेरी दोस्ती में 2 पल की ज़िन्दगी बहुत है, एक पल की हंसी एक […]