कविताये एवं शायरियां भाग – 2

 

रोसन कर दे खुशियों से अपनी ये जंहा,

साथ है हम तेरे हर दम,

भूल जा बुरी बातो को,

न सोच किसने तुझसे क्या कहा,

 

 

लिख दे इतिहास नया,

फिर देख बदल जाएगी ये दुनिया,

कर वो जो सोचा था तूने,

फिर देख मिल जाएगी तुझे सारी खुसिया,

 

 

न देख औरो को के किसने क्या किया,

देख खुद को तु, के तूने औरो से क्या लिया,

मिल जायेगा हर सवाल का जवाब तुझे,

जब देखेगा की तूने औरो को क्या दिया

 

 

कुछ पल की ही स्साही, पर हमें वो खुसी दे दे,

थोडा सा खुद हंसले, और थोड़ी हमें हंसी दे दे,

मर ना जाये कही हम अब,

मरने से पहले हमे, हमारी ज़िन्दगी दे दे,

 

 

खामोसी जैसे अब हमारी आदत सी बन गई,

ज़िन्दगी जैसे एक इबादत सी बन गई,

रूठा है क्योँ हमसे खुदा इतना,

उनका रूठना जैसे हमारी आफत सी बन गई,

 

ना जाने वो कौन सी घडी होगी,

दिलो में फिर से प्यार की लड़ी होगी,

चलेंगे जब फिर मिलकर सब साथ,

तो चाहत में झूमती फिर ये जमी होगी,

 

 

क्योँ ये ज़िन्द्दगी बेरंग सी लगने लगी है,

हाथो में जैसे मौत की लकीरे सजने लगी है,

नही लगता सुहाना अब ये जंहा,

जैसे हमें अब ये ज़िन्दगी डसने लगी है,

 

 

सच है ये, उम्मीद रब से होती है, सब से नही,

जों उम्मीद सब से करो हो पूरी ये जरुरी नही,

रखो ऐतबार खुद पर इतना, के खुद मंजिल मिलेगी तुम्हे कहीं न कहीं,

 

 

हमने तो बस उनसे थोडा प्यार माँगा,

दिल में जगह और थोडा विशवास माँगा

इंसान है हम, हमारी हर गलती पर थोडा इन्तेजार माँगा,

न मिले खुसिया तो भी गम नही,

पर हर गम में बस तुम्हारा प्यार माँगा,

 

 

क्योँ उन्हें हमपर ऐतबार नही,

कैसे कहे की शायद अब उन्हें हमसे प्यार नही,

बस चल रहे है जैसे, कोई रिश्ता निभाने को,

फिर क्योँ इस रिश्ते से उन्हें कोई आश नही,

जानते है, गम उन्हें कम नही,

फिर क्योँ उनके गम में हम उनके पास नही,

 

इस ज़िन्दगी में कभी हमारा साथ न छोड़ना,

होकर दूर हमसे कभी, हमारा विस्वाश न तोडना,

रखना दिल में हमेसा हमें, जो मर जाएँ कभी  हम तो,

तुम जीने की आश ना छोड़ना,

 

 

नही जानते थे की, ये ज़िन्दगी क्या है,

उनसे मिले तो जाना की दिल्लगी क्या है,

होकर जुदा उनसे हम रह न सकेंगे,

जो the पास उनके तो जाना की खुसी क्या है,

 

मांगने से नही मिलती ये ज़िन्दगी मेरे दोस्त ,

तु अपनी ज़िन्दगी खुद ही बनाते चले जा,

मिलेगी मंजिल तुझे एक दिन

तु खद ही अपना रास्ता बनाते चले जा,

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *